Sandeep Maheshwari की Video का लेख आपकी जिंन्दगी बदल सकता है

नमस्ते , दोस्तो ये मैंने कुछ दिनों पहले Sandeep Maheshwari की Video का Promo देखा था . मैने सोचा की क्यों ना इसे लिखा जाए .
आपका पूरा Future उस एक बात पर निर्भर करने वाला है . उसमें आप क्या choice लोगे . गलत choice  ले ली जिन्दगी भर के लिए फस जाओगे . सही choice ले ली जिंदगी बदल गयी . एक तरफ है जो आप करना चाहते हो , जो आप बनना चाहते हो . और दुसरी तरफ है जो ये दुनिया आप से करवानी चाहती है . जिस इंसान में ये courage नहीं है की अपनी  Life का सबसे बडा Decision खुद ले सकू वो जिंदगी में क्या करेगा .मान लो आपको आपके  Decision के कारण मारा भी . जुतो से मारा , गुस्सो से मारा . एक तरफ तो वो 5 मिनट की मार है ओर दुसरी तरफ जिन्दगी भर मरवाते रहोगे . समझो कुछ . मान लो आपके घर वाले आपके पिछे पडे है की Engineering करो . Engineer बनो . लेकिन आप बोल रहे हो की मेरा कोई Interest नहीं है , मुझे Fashion Designer बनना है . तो घर वालो ने भी बोल दिया की जा जो करना है करो .अब आप करने लग गये . अब पहला साल हो गया , दुसरा साल हो गया , तीसरे साल में फेल हो गए . इस Failure कि जिम्मेदारी किसकी है i
Surely आपकी है . अब ये Responsibly लेने के लिए क्या चाहिए . Simple है भाई इसके लिए Courage चाहिए . फेल होने के बाद भी मुझमें ये Courage है की मैं आगे बढता रहूगा. मैं हार नहीं मान रहा . अगर इतनी बुरी Situation से जब मैं ऊपर उठूगा तो मैं क्या होंउगा  .
 By Sandeep Maheshwari Promo video .

दोस्तो अगर आपको कुछ कमी लगी हो तो आप Comment के जरिए मुझे जरूर बताए .

Read also -:


=> विपत्ति से डरकर जब हम भागते हैं तो वह और तेजी से हमारा पीछा करती है|


=> काबिलियत पर भरोसा करना सिखें


=> सफलता पर विचार

सफलता कैसे मिलती है जरूर जाने

नमस्ते, 
दोस्तो कैसे हो । आज हम कुछ सफलता के बारे में बात करेगें । सफलता का अर्थ हमारे लिए अलग अलग हो सकता है लेकिन उसमें हिम्मत एक का रुप लगभग समान ही होता है । 
“हारिए न हिम्मत बिसारिए न राम” के मूल मंत्र में ही सफलता का रहस्य छिपा है । कठिन से कठिन परिस्शितियों में भी हिम्मत न हारने वाला मनुष्य जीवन में ऊचाईयों को प्राप्त कर ही लेता है । परमेश्वर ने जितनी सम्मभावनाएं आगे बढने की मनुष्य मात्र को दे रखी है, शायद ही किसी को नहीं । परन्तु आज का मनुष्य कहीं ना कहीं आपनी विशिष्ढता एवं क्षमता को पहचाननें में नाकाम दिख रहा है । आत्मविकास की बात करना तो दुर की बात है । थोडी बहुत बाधाओं से ही मनुष्य घबराने लगता है । सघर्ष करने से भागता है । परन्तु समझना जरूरी है की जब हिम्मत साथ होगी , तभी परिणाम की सिद्धि होगी । 

साधारण व्यक्ति जहां केवल चिंतन और कर्म का ही वहन करते है वही दुसरी ओर आत्मनिरीक्षण ,आत्मसुधार और आत्मनिर्माण को भी अपने प्रयासों में सम्मिलित करते है । ऐसे हर दिन को एक नए जन्म के रूप में आरम्भ करते हैं । इस प्रकार जीवन में कई बार मन को संकल्पित किए जाने की आवश्यकता होती है । इतिहास साक्षी है कि जिन्होने बी परमेश्वर की अनुकाया को अनुभुत  करते अपने कार्यो को पुरा करने का प्रयास किया है , वे निश्चित ही सफल हुए है । सकारात्मक सोच रखते हुए निर्भयता पूर्वक कार्य के प्रति सलग्न होना सफलता का आधार है नकारात्मक सोच के लोगों को पास फटकने न दे । मित्रता सदैव साहसी , बुध्दिमान एवं विश्वासी लोगों से करे । उत्साह बढानें वाली ,साहस व हिम्मत से भरी बातों ,कहानियो ,घटनाओं को अपने जीवन में जगह देकर व्यक्ति भौतिक ही नहीं अपितु आध्यात्मिक क्षेत्र  भी ऊचांईयो को प्राप्त कर सकता है ।सतत प्रयास करें । निरंतर प्रयास ही आपकी किस्मत का निर्माण करता है । 
“भगवान श्री कृष्ण ने कहा है कई बार उदेश्य कि प्राप्ति ने होने के पीछे कहीं न कहीं पूर्ण समर्पण की ही कमी होती है।” इसीलिए प्रयास करते रहे । मै भगवान से प्रार्थना करुगा कि आपको आपकी मजिंल (लक्ष्य) जरूर मिले ।
अपनी राय आप कोम्टस (Comment ) के रूप में दे सकते है । आपका काई सवाल हो तो पुछ सकते हैं .

Read also -:




प्रेरणा (Motivation) क्यों जरूरी है

हैलो दोस्तो कैसे हो ।
आज हम प्रेरणा (Motivation) के बारे में बात करेगें ।
 कई बार हम किसी को देखकर उस जैसा बनने या उस जैसा काम करने की ठान लेते । उसे अपना लक्ष्य बना लेते है । कुछ दिनों तक तो हम जी लगा कर काम करते हैं । लेकिन कुछ दिनो के बाद हम कमजोर पड जाते हैं। उस काम को करने का मन ही नही होता । किसी  ओर काम को पकड लेते हैं और फिर कुछ दिनों के बाद फिर वही Back To Normal  । और
फिर हमारे साथ यही होता है । हमे अपने काम में मन और उसे पुरी मेहनत के साथ , पुरे  जोश के साथ करने के लिए क्या चाहिए  . मै बताता हूँ आपको  हमें उसे पुरा करने के लिए करेज (courage ) चाहिए और ये courage कहाँ से आएगा ये सिर्फ किसी की प्रेरणा से आएगा । जी हाँ उसी प्रेरणा से जिससे तुम्हें यह काम करने का मन बनाया था । वही प्रेरणा (Motivation) आपको वो courage  देगी । आपको उस प्रेरणा को लेकर दृठ होना होगा उस कार्य को करने के लिए , वैसा बनने के लिए . आप एक बात याद रखना की आप कुछ भी कर सकते हो , कुछ भी बन सकते हो .बस आपको प्रेरणा की जरूरत है . आप प्रेरणा प्रेरणादायक विडियो देखकर  भी ले सकते हो और किसी की बाते सुनकर भी आ सकती है . 
" You Don't know what Motivate you " 
तो दोस्तो अपनी राय जरूर दे . पता नहीं आपकी राय किसी को प्रेरणा (Motivate) दे दे .

खुद की भावनाओं को न आंकें

खुद की भावनाओं को न आंकें
अपनी भावनाओं को खुद से आंकना छोड़ दीजिए, क्‍योंकि आपको अपने अंदर कभी भी कमी नहीं दिखेगी, अगर आपकी भावनायें गलत होंगी तब भी वे आपको अच्‍छी लगेंगी। अगर आप अपनी भावनाओं को खुद से आंक रहे हैं इसका मतलब आप अपनी कमी को छुपाकर अपनी योग्‍यता को कम कर रहे हैं। इसका नकारात्‍मक असर आपकी सकारात्‍मक सोच पर पड़ता है। इसलिए नकारात्‍मक भावनाओं से बचने की कोशिश कीजिए।

हमारी नई पोस्ट को Email द्वारा पाने के लिए अपना Email address डालें